महिला के मौत के लिए जिम्मेदार बाघिन को पकड़ने में वन विभाग को सफलता।



(ब्रह्मपुरी वन विभाग के अवलगांव में पकडा.)
यश कायरकर:
    आज श्याम को ४ बजे ब्रह्मपुरी वन विभाग ब्रह्मपुरी के अंतर्गत आने वाले दक्षिण ब्रह्मपुरी वन परिक्षेत्र के अवलगांव ऊपक्षेत्र के हलदा बिट, कक्ष क्रमांक ११६८ में एक दो से ढाई साल उम्र की बाघिन को वन विभाग वन विभाग ने पकड़ा।
    ज्ञात होगी गए हफ्ते लगातार तीन अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की जान बाघ के हमले में गई थी। २९ अक्टूबर को पलसगांव वन क्षेत्र के बेलना में एक चरवाहे को बाघ ने मार डाला था, फिर दूसरे ही दिन खर्चिंगी वन परिक्षेत्र में वाक्य हमले में फिर से एक किसान की मौत हुई थी, और फिर 1 नवंबर को  ब्रह्मपुरी वन विभाग के अवलगांव ऊपक्षेत्र के हलदा बिट के कंपार्टमेंट नं.११६८ में खेत में धान की कटाई कर का काम करते वक्त हलदर कि सायत्राबाई नामदेव कामडी(७०) नामक महिला को बुधवार को बाघ ने मार दिया था। तभी से ब्रम्हपुरी वन ब्रह्मपुरी के वन कर्मचारी इस बाघिन को पकड़ने के लिए इसकी हरकतों पर नजर गड़ाए बैठे थे।  उसी के चलते आज इस बाघिन के लोकेशन की जानकारी मिलते ही शाम को ४ बजे डॉ. आर. एस. खोब्रागडे, पशुवैद्यकीय अधिकारी (वन्यजीव) ताडोबा अं. व्याघ्र प्र. चंद्रपूर,  तथा आर आर टी प्रमख  ए.सी.मराठे, पोलीस नाईक,(शुटर)ता.अं. व्या. प्र. चंद्रपूर,.  राकेश आहूजा बायोलॉजिस्ट ,वनविभाग ब्रम्हपुरी इस टीम ने इसे ट्रेंकुलाइज कर पकड़ लिया। और सफलता पुर्वक इस ऑपरेशन को अंजाम दिया। और इसे बाद में टी.टी.सी. चंद्रपुर ले जाए गया।
     यह कार्यवाही श्री. शेंडे सर, वनपरिक्षेत्र अधिकारी (प्रादे.) दक्षिण ब्रम्हपुरी, मार्गदर्शन में
 की गई। आर आर टी सदस्य दिपेश. डि.टेंभुर्णे  योगेश. डि.लाकडे, गुरुनानक .वि.ढोरे, वसीम.ऐन.शेख ,विकाश.एस.ताजने, प्रफुल.एन.वाटगुरे, ए. डी. कोरपे आर.आर. टी. वाहनचालक, ए. एम. दांडेकर, आर.आर.टी. वाहन चालक,नुर अली सय्यद, भारत पेटकर, नितीन करंभे, जय सहारे,
 यह उपस्थित थे।

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत:

झिंदाबाद!

राजुरा

[राजुरा][stack]

मूल

[मूल][grids]

चिमूर

[चिमूर][grids]